वो एक सवाल

आज फिर किसी ने वही जख्म छेड दिया,
जो आज भी हरा है कहीं न कहीं,
कुछ किस्से ज़िंदगी में इस कदर समा जाते हैं,
कि उन्हें कितना भी निकाल लो,निकलते ही नहीं।

किसी बहुत अपने का दिया हुआ तोहफा है यह जख्म,
अब ज़माने को बताएं भी तो क्या,
रिश्ता ही बहुत करीबी का है,
सच बता कर लोगों को जताएं भी तो क्या।

किसी की एक गलती,एक गलत फैसले की सजा है यह,
जो सारी उमर मेरे साथ रहेगी,
और मैं भी चुप चप सह रही हूं यह सोच कर,
की आखिर दुनिया क्या कहेगी!

एक सवाल है मेरे दिल में कई सालों से,
जिसके जवाब की तलाश में आज भी हूं,
खुद से रोज लड़ती हूं, और सोचती हूं,
कि अब किसी से क्या कहूं!

कोई नहीं जानता,कोई नहीं समझता,
जो मेरे दिल पे बीतती है,
जब दुनिया वहीं सवाल मुझसे करती है,
और जवाब देते देते अक्सर मेरी आंख भरती है।

वो एक सवाल जो मुझे हिला के रख देता है,
वो एक सवाल जो कुछ पलों में सारी यादें ताज़ा कर देता है,
वो एक सवाल जो मेरा पीछा ही नही छोड़ता,
वो एक सवाल जो हमेशा मेरे दिल को तोड देता है

मत पूछो वो एक सवाल मुझसे,
बहुत कड़वी यादें हैं उस से,
खुद से तो रोज़ झूठ बोलती हूं जवाब के नाम पर,
नहीं बोल पाऊंगी तुम सब से।

@the enagmatic girl😘

Advertisements

एक खत तुम्हारे लिए

जब भी तुम्हे देखती हूँ,
यह ख्याल आता है,
की, कितने ख़ास हो तुम
कितने कीमती हो
मेरे लिए

जानते हो,
तुम्हारी मासूमियत ही इतनी प्यारी है,
की बस
दिल करता है, बिना पलकें झपकाएं
तुम्हे देखती रहूँ

तुम्हे छेड़ने का भी अलग ही एक मजा है,
तुम्हारा वो गुस्सा,
वो हलकी सी लड़ाई,
वो हलकी सी तकरार,
उसमे छुपा है ढेर सारा प्यार

तुम्हारी हर छोटी बड़ी चीज बहुत कीमती है मेरे लिए,
इन आँखों में तुम्हे कैद किया है मैंने,
कभी मेरी नज़रों से देखना खुद को,
मोहब्बत न हो जाये तुम्हे,
खुद से, तो कहना

The enagmatic girl 😘

Our bodies wanted more…..

After so long,
We met at same place
And shared,
The same old love
But,in a different way.

The first hug,
Was tighter than before,
And,
Gave more peace to my soul.

The first kiss,
Was more temping,
And,
Made us wanting for more.

The first love bite,
Was more hard
And,
Left us with a beautiful pain.

The way we touched each other,
Was more than a touch
And,
Aroused our bodies.

we kissed madly,
we looked desirely,
we laid down with each other,
We created a frisky aura,
With lust and libidinous touches,
Our bodies wanted more-
More love, lust, hickeys and smashes.

The enagmatic girl 😘

5 November 2018

There is something special about this date.
We Met after five months and
finally got a chance to have a glimpse of each other.
The happiest part was to see him in front of me and
finally I could touch him!

Filthy fights,
warm tight hugs,
hungry kisses and
brutal bites marked the day.
After enormous arguments and
Endless talks,
We still had a lot more to say!

Remarkable touches and
Enchanted moments kept us longing
At the end, we were getting late
And ended the day,
With a sweet chocolate.

The enagmatic girl 😘

Maybe I should leave because you don’t want me to stay

Maybe I should leave
Because you don’t want me to stay,
I know you don’t love me
In the most desired way.

I know my absence will hurt you,
But only if you want to feel
That it is not easy,
For the old wounds to heal

You need to know certain things
About us,
And maybe then you can keep us away
From this chaos and fuss.

Your actions hurt me,make me cry
But I love you more,
And in no world I’ll put you down
Because you are the beauty I adore.

I know I am neither beautiful nor perfect
And definitely,not the girl you wanted
But I guess I am not too bad,
That you always took me for-granted

But maybe I should leave your way
And keep my feelings reserved
For you to get every happiness
And everything,
More than you deserved.

The enagmatic girl 😘

An eulogy to my wall

These walls hold a really special place in my heart.
It has seen my glitter and my grey,
my laughter and my cries,
My toddler steps to adolescence ones
And the secrets which are known to none

These walls hold a really special place in my heart,
It supported my every trembling step,
My angry punches,
I have seen it in different colours
But in every way, it managed to blossome like a flower.

These walls hold a really special place in my heart,
It has gone through many phases of life
Along with us,
It has seen our tiring nights
And some unwanted fights!

Seeing them breaking in front of me,
Tears me apart,
Because,
These walls hold a really special place in my heart

The enagmatic girl 😘

थी तो वो आपकी ही ना

थी तो वो आपकी ही ना
जब आपने उसको अपनी ज़िन्दगी से बहार निकला था
हाँ पापा, बेटी तो आपकी ही थी ना
वो नन्ही कली, जिसको अपने खुद मारा था

तीन महीने की थी वो,
दुनिया से अनजान
ऐसी ठोकर दी आपने
की आज भी तलाशती है अपनी पहचान

सिर्फ लड़की थी, बस यही था गुनाह,
इस लिए दे दिया इतना बड़ा गम
लाख कहानियों से छुपाया है उसकी माँ ने यह राज़
जिस से उस की आँखें थी नाम

बहुत बड़े वकील हो न आप
तो इस बार कहाँ गया आपका इन्साफ
सबको इन्साफ दिया, बस अपनी को छोड़ कर
एक बार तो अपनी गलती पलट कर देखते
लड़की थी तो क्या हुआ,
आखिर, थी तो वो आपकी ही ना

The enagmatic girl 😘